Himachal News

भारी बारिश से कई मार्ग बंद, यातायात ठप्प, कोटरोपी में सड़क बहाली के लिए करना होगा और इंतज़ार

पिछले कल से हो रही मूसलाधार के कारण मंडी जिले के कई मार्ग बंद हो गए हैं. जिस कारण इन पर यातायात अवरुद्ध हो गया है. पिछले दो हफ़्तों से कोटरोपी में बंद चल रहे एनएच 154 को बहाली के लिए और इंतज़ार करना पड़ेगा. हालाँकि प्रशासन ने PWD के साथ मिलकर सड़क को खोलने के लिए एक वैकल्पिक मार्ग बनाया था और आज से मार्ग खुल जाने की उम्मीद थी लेकिन कल रत की बारिश के बाद अभी बनाया हुआ वैकल्पिक मार्ग भी पानी में बह गया है. जिससे फ़िलहाल सड़क को बहाल करना नामुकिन है.

 

पिछले साल 13 अगस्त की रात को ही कोटरोपी में भूस्खलन के कारण एक भयानक हादसा हो गया था. 13 अगस्त की रात एक बार फिर से भारी रही.

वहीँ पधर-नौहली मार्ग पर डंगा धंस जाने के कारण हिमाचल परिवहन की एक बस के बाईं और के दोनों टायर सड़क में धंस गए. बस खाई में गिरने से बच गई. एसडीएम पधर ने रत में ही मौके पर पहुंच कर फंसे यात्रियों को पधर वापिस पहुंचाया. कोटरोपी में सड़क अवरुद्ध होने के बाद पधार से जोगिन्दर नगर जाने वाले वाहनों को नौहली होकर भेजा जा रहा था लेकिन बस के फंस जाने के बाद यह मार्ग भी फ़िलहाल बंद है. मंडी से जोगिन्दर नगर जाने वाले वाहनों को कोटली होकर जाने के निर्देश दिए गए हैं.

NH-154 का दूसरा वकल्पिक मार्ग झटिंगरी-डायनापार्क भी बंद हो गया था. इसके अलावा मंडी-कमांद और कुन्नू-कुफरी सड़क मार्ग भी ल्हासे व पेड़ गिरने के कारण बंद हो गए हैं. जिन्हे खोलने के प्रयास किये जा रहे हैं.

मैगल के पास भी ल्हासा गिरने के कारण मार्ग अवरुद्ध था जिसे अब बहाल कर दिया गया है.

भारी बारिश के कारण डीसी मंडी ने जिले के सभी सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों में एक दिन का अवकाश घोषित कर दिया है.

Related Post

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *